Wednesday, January 26, 2022

नोबेल विजेता आंग सान सू को 4 साल की सजा, कोविड प्रोटोकाल तोड़ने पर दोषी करार 

- Advertisement -

आंग सान सू की जोकि नोबेल पुरस्कार विजेता व म्यांमार की जन नेता है। उन्हें सोमवार को म्यांमार की एक अदालत में चार साल के लिए जेल की सजा सुनाई गई है। सू खिलाफ आरोप है की उन्होंने सेना के खिलाफ असंतोष भड़काने और कोविड नियमों का उल्लंघन किया है। इससे पहले से आरोपी आंग सान सू की के खिलाफ म्यांमार में कई मुकदमे और भी चल रहे हैं।

इन मामलो में उन पर आरोप है की, उन्होंने भ्रष्टाचार, मतदान में धांधली की है। फिलहाल न्हें दो मामलों में दोषी ठहराया गया है। आंग सान सू सैन्य शासन के खिलाफ आवाज उठाने वालों में से बड़े नेताओं में से एक है। उनकी लोकप्रियता का यह एक बहुत ही बाद कारण है और इस कारण से उनकी लोकप्रियता आज भी बरकरा है।

आपको बता दे की, सू 1 फरवरी से ही हिरासत में हैं और इस सजा के ऐलान के बाद अब वह चुनाव भी नहीं लड़ पाएंगी। सैन्य शासित म्यांमा के सबसे बड़े शहर में सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के शांतिपूर्ण मार्च के दौरान सेना का एक वाहन लोगों के ऊपर चढ़ा दिया गया, जिसमें कम से कम तीन लोगों की मौत होने की आशंका है। यह जानकारी प्रत्यक्षदर्शियों और प्रदर्शन के एक आयोजक ने दी।

रविवार का मार्च यांगून में आयोजित कम से कम तीन प्रदर्शनों में से एक था। देश की पूर्व नेता आंग सान सू के खिलाफ लगभग एक दर्जन आपराधिक मामलों में से एक में अपेक्षित फैसले से एक दिन पहले देश के अन्य हिस्सों में इसी तरह की रैलियां आयोजित किए जाने की सूचना मिली है। सू एक फरवरी के सैन्य तख्तापलट के बाद अपदस्थ हो गईं थीं।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles