अलेप्पो के एक पांच साल के एक बच्चे का विडियो सामने आया हैं, ये विडियो दो पत्रकारों के साथ एक कार्यक्रम में दिखाया जा रहा था. इस बच्चे को बेहोश किये बिना सर्जरी की जा रही हैं जिसको देख आँखों मे पत्रकारों की आँखों में आँसू छलक पड़ते हैं.

यह विडियो इतना मर्मस्पर्शी है की किसी की आँखों में भी आंसू आ जाये ” बिना बेहोशी की दवा के सर्जरी करवाने का दर्द बर्दाश्त कर रहा बच्चा अल्लाह के क़ुरान की तिलावत कर रहा है, जो बता रहा है की “अल्लाह तेरी रहमत से ही उम्मीद है देख तेरे लिए मैं इतना दर्द सहते हुए भी सिर्फ तेरे क़ुरान की तिलावत कर रहा हूँ”

इस विडियो में देखा जा सकता हैं कि इस बाचे की विडियो देखने के बाद तुर्की के दो प्रसारक रोने लगते हैं और उनकी ज़ुबान से एक लफ्ज़ भी बयान नहीं हो पा रहा हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुख्या बात ये हैं कि बच्चे को बेहोशी का इंजेक्शन नहीं लगाया गया था और बच्चा सर्जरी के दौरान इस्लाम की पवित्र किताब कुरान की तिलावत कर रहा हैं. पांच वर्षीय ये बच्चा ऑपरेशन के दौरान कुरान की सुरह लहेब और सूरह अल-बक़रह की आयात को पढ़ रहा हैं.

ये सर्जरी किसी अस्पताल या मेडिकल संस्था में नहीं बल्कि एक बंद तैखाने में मोबाइल फ़ोन की लाइट में की जा रही हैं. तुर्की के पत्रकार कार्यक्रम के दौरान बोल नहीं पा रहे हैं और उनकी आँखों में आंसू हैं.

Web-Title: A five years old Aleppo toddler reciting quran while surgery without anesthesia

key-Words: Aleppo, Five, years old, Surgery, quran

Loading...