कर्नाटक राज्य के मांड्या जिले में इस वक़्त तनाव का माहौल बन गया है. जहां पर बन रहे मदरसे को बन्ने से रोकने के लिए सैकड़ो लोग सड़कों पर उतर आये. और इसके कंस्ट्रक्शन को रोकने की मांग को लेकर जिले के पुलिस स्टेशन के बाहर प्रोटेस्ट करने बैठ गए.

पुलिस और राजस्व विभाग के मुताबिक यह मदरसा गैर कानूनी तरीके से बन रह है. और यह मदरसा रिहाशी जगह पर ज़बरदस्ती बन रहा है इसके लिए कोई आदेश पारित नहीं हुए थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सच्चाई यह कि इस विरोध में तकरीबन 700 से अधिक लोग विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल के हैं. इसकी मांग है कि इस आदरसे को बन्ने से रोक जाये और जितना बन चूका है इसको गिर दिया जाये. अगर राज्य की सरकार ने हमारी मांगे पूरी नहीं की तो हम खुद कुछ कठोर कड़ाम उठाएंगे.

विरोध करने वालो की मांग है कि जिले शासन प्रबंध को मदरसा बनाने वालो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करनी चाहिए. इसके बाद विरोधियो ने पूर्व तालुके के अध्यक्ष के खान के खिलाफ नारे बाज़ी भी कि और उन पर इलज़ाम लगाए की गैरकानूनी तरीके से मदरसा बनवाने में इनका ही हाथ है.

अब समझने वाली बात यह कि क्या सिर्फ विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल के लोग ही क्यों प्रोटेस्ट कर रहे हैं. वह कि लोकल जनता इसका विरोध क्यों नहीं कर रही हैं.

Web-Title: VHP and BJD demanding demolishes of  madrasa

Key-Words: Mandya, Bajrang Dal, VHP, demolish, Madrasa, Karnataka, protest, construction

Loading...