बहुसंख्यक समाज को रोहिंग्याओं के खिलाफ भड़काने के लिए हो रहा फर्जी तस्वीरों का इस्तेमाल

म्यांमार में हिंसा के चलते पलायन कर रहे दुनिया के सबसे पीड़ित अल्पसंख्यक रोहिंग्या समुदाय को लेकर दुनिया भर में सहानुभूति है. वहीँ 5000 साल पुरानी वसुधैव कुटुम्बकम् की सनातन संस्कृति वाले देश भारत में रोहिंग्याओं की मदद करने के बजाय उन्हें बदनाम करने के षड्यंत्र रचे जा रहे है.

भारत में सोशल मीडिया पर एक अभियान के तहत रोहिंग्या मुस्लिमों को न केवल बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. बल्कि देश की बहुसंख्यक हिन्दू समुदाय को रोहिंग्याओ के खिलाफ भड़काने की पूरी साजिश की जा रही है. ध्यान रहे केंद्र सरकार पहले ही रोहिंग्या मुस्लिमों को आतंकी बता चुकी है.

देखे फर्जी तस्वीरों के बेहूदा इस्तेमाल:

https://twitter.com/Shanknaad/status/911804744095748096

हकीकत बयान करती असल तस्वीरें:

विज्ञापन