लखनऊ। कार अभी बिजनौर के सहसपुर में प्रवेश करने वाली थी कि सड़क पर बन रही नाली पर पापा ने रफ्तार धीमी की। तभी मुंह पर कपड़ा बांधे लेफ्ट साइड से बाइक पर सवार दो लोग आए और मम्मी की तरफ से खिड़की पर गोली चला दी। खतरा भांपते ही पापा ने कहा-हेडडाउन तो मैं और भाई शाहबाज सीटों के नीचे छिप गए। बाइक वालों ने फायरिंग करना शुरू कर दी। दस मिनट तक फायर होते रहे, इसके बाद हमलावर भाग गए। थोड़ी देर बाद देखा तो पापा खून से लथपथ पड़े थे। यह बताते हुए तंजील की बेटी जिमनिश करीबा सहम जाती है। उसकी आंखों में आंसुओं के साथ साथ दहशत साफ दिखाई देती है। बताया कि कि गोलियां चलने के बाद पापा ने मां की गोद में नीचे झुककर बचने का प्रयास किया। पांच मिनट बाद पीछे से बड़े ताया की कार आ गई। मम्मी को भी गोलियां लगी थीं और उनके भी खून निकल रहा था। भाई और मेरा दहशत से बुरा हाल था।

हंसते बोलते जा रहे थे तंजील

घटना से आधे घंटे पहले परिवार के साथ हंसते बोलते और मजाक करते तंजील बहन के घर से निकले थे। कार की ड्राइविंग सीट पर बैठे तंजील पास वाली सीट पर बैठी पत्नी फरजाना खातून से बातें कर रहे थे। बेटी जिमनिश और बेटा शाहबाज पीछे की सीट पर बैठे थे। तंजील के बड़े भाई रागिब ने बताया कि उनके बेटे आरिश ने जब कार खड़ी देखी तो रोकने को कहा। जाकर देखा तो दोनों बच्चे बदहवासी में चीख रहे थे। कार के शीशे बंद थे। दहशत के कारण बच्चे कार से बाहर तक नहीं निकले थे। इसके बाद रागिब भाई को लेकर थाने पहुंचे और परिजनों को मामले की सूचना दी।

परिवार के चेहरे पर दहशत

तंजील के माता-पिता की मृत्यु पहले ही हो चुकी थी। दोनों भाई ओखला के शाहीन बाग के कालिंदी कुंज में रह रहे थे। बड़े भाई रागिब अध्यापक हैं जबकि तंजील की पत्नी बटला हाउस जोगाबाई में पढ़ाती हैं। पोस्टमार्टम हाउस में पूरे परिवार के चेहरे पर दहशत दिखाई दी। दो बजे जब शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा गया तो कोहराम मच गया। बिजनौर सीओ धामपुर अशोक कुमार यादव ने बताया कि स्योहारा पुलिस ने तंजील अहमद के भाई रागिब अहमद की तहरीर पर दो अज्ञात हत्यारों के खिलाफ हत्या और जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

कॉलेज से मिली सीसीटीवी फुटेज

जांच एजेंसियों ने स्योहारा से सहसपुर के बीच सीसीटीवी कैमरे की खोजबीन शुरू की तो स्योहारा-सहसपुर रोड पर एमएम पब्लिक सेकेंड्री स्कूल पर कैमरा लगा मिला। इसकी फुटेज खंगाला गया तो, आधी रात के समय दो संदिग्ध बाइक नजर आई। जांच एजेंसी ने फुटेज को कब्जे में ले लिया है। हालांकि फुटेज साफ नहीं है। मगर दो बाइक जाती दिखाई दी है। आशंका है कि बाइक हमलावरों की हो सकती हैं। फुटेज को स्पष्ट करने के लिए लैब में भेजा जा रहा है।

News courtesy – Dainik Jagran

– See more at: http://www.jagran.com/uttar-pradesh/lucknow-city-sinister-story-of-tnjil-ahmed-murder-nuncupative-by-daughter-13813990.html#sthash.bJ9Ruxly.dpuf

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?