shah faisal

जहाँ एक तरफ 1996 के बाद से अब कश्मीर बुरी तरह जल रहा है वहीँ देश की मीडिया पर इलज़ाम लगाये जा रहे है की वो सच को सामने ना लाकर इस मुद्दे को भी व्यवसायिक नज़र से देख रही है. सिविल सर्विसेज के टॉपर रहे कश्मीर से सम्बन्ध रखने वाले शाह फैसल ने इस मुद्दे पर जमकर मीडिया की लताड़ लगायी. उन्होंने कहा की मेरी और बुरहान वानी की फोटो अगल बगल रखकर दिखाई जा रही है और दोनों की तुलना की जा रही है. ये अपने आप में खोखलेपन को दिखाता है.


हाल ही एक समाचार पत्र में एक लेख प्रकाशित हुआ था, जिसमें लिखा था कि कश्मीर में जहां एक और बुरहान वानी जैसे आतंकी गतिविधियों में संलिप्त हैं तो वहीं दूसरी ओर शाह फैजल एक ईमानदार ऑफीसर हैं । मीडिया की इस हरकत से शाह इतने नाराज हैं कि वे अपने पद से तक रिजाइन देने का मन बना चुके हैं। उन्होंने कहा कि मेरे आसपास अगर इसी तरह से बकवास चलती रही तो वे जल्द ही अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। उन्होंने कहा कि कश्मीर में पहले ही इतना सब हो रहा है ऊपर से मीडिया भी इस तरह की हरकत कर रही है। उन्होंने कहा ये सभी खबरिया चैनल्स कश्मीर के सच्चाई को अब तक सामने नहीं ला रहे हैं।

वो भी तब जब एक राज्य सेल्फ इंजरी का शिकार हो रहा हो। ऐसे में कोई भी सरकार यहां के दर्द से अनभिज्ञ नहीं रह सकती। ऐसी स्थिति में हर किसी का यही प्रयास रहता है कि वे हिंसा को रोकें और वहां तक पहुंचे। लेकिन खबरिया चैनल्स कैसे भी करके अपनी टीआरपी बढ़ाने के लिए ऐसी चीजों को बढ़ावा देते हैं। उन्होंने कहा कि यह वक्त कश्मीर के उन लोगों के लिए दुआ करने का है, जिन्होंने अपना सब कुछ खो दिया है, जो हमेशा के लिए मौत की नींद सो गए हैं, जिनका परिवार बिखर चुका है और ये सब कश्मीर के लोग अपनी आंखों से देख रहे हैं, ये सच्चाई मीडिया नहीं दिखा रहा है। फैजल ने जब अपनी टाइम लाइन बहुत कुछ पढ़ा तब उन्हें रिलाइज हुआ कि मीडिया पर कुछ बोलना चाहिए। लिहाजा फिलहाल कश्मीर में चारों ओर दुख की घड़ी है। उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा हाल फिलहाल में कश्मीर में इतना सब कुछ चल रहा है, ऐसे में मीडिया इस तरह की हरकत उन्हें और भी डिस्टर्ब कर रही है। उन्होंने सभी खबरिया चैनल्स इस मामले को लेकर लताड़ लगाई है।

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें