वाराणसी: दुर्गा चालीसा, शिव चालीसा और हनुमान चालीसा सहित कई हिन्दू धर्म ग्रंथों का उर्दू में अनुवाद (तर्जुमा) कर चुकी एक मुस्लिम लड़की नाज़नीन अंसारी को भारत के राष्ट्रपति प्रणब मुखेर्जी सम्मानित करेंगे!

नाज़नीन अंसारी ने समाज में हिन्दू मुस्लिम भाईचारे को क़ायम रखने के लिए एक सांप्रदायिक सदभाव की मिसाल पेश की है! यही वजह है कि 22 जनवरी को दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में महामहिम राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी नाज़नीन को सम्मानित करेंगे!

नाज़नीन अंसारी बनारस के गरीब बुनकर परिवार से ताल्लुक रखती है और अपने परिवार में एकमात्र पढ़ी लिखी लड़की है! साभार: muslimissues





कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें