Tuesday, May 17, 2022

विदेशी मीडिया ने हिटलर से की मोदी की तुलना

- Advertisement -

जेएनयू मामले पर भारत की मीडिया क्या कह रही है ये आप सुन पढ़ सुन और देख ही रहे हैं लेकिन क्या कभी ये सोचा कि इस घटना के ऊपर विदेशी मीडिया का क्या नजरिया है. अगर विदेशी मीडिया की बात करें तो जेएनयू प्रकरण को लेकर वह मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा कर रही है और मोदी पर थू थू कर रही है. अमेरिका के सबसे प्रमुख अखबार न्यूयार्क टाइम्स ने मोदी को तानाशाह बताते हुए हिटलर से तुलना कर दी.

न्यूयार्क टाइम्स ने लिखा है, ‘‘भारत अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पैरोकार लोगों के बीच हिंसक झड़प की वेदना झेल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हिंदू अधिकार पर इसके राजनीतिक सहयोगी इसे खामोश करने के लिए आतुर हैं।’’ इसने कहा है कि टकराव ने मोदी के शासन के बारे में गंभीर चिंताएं उठाई हैं। यह आर्थिक सुधारों पर संसद में किसी प्रगति की राह में और भी रोड़े अटका सकती है। अखबार ने एक अलग आलेख में देशद्रोह के आरोप में जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली में हुई घटनाओं का जिक्र किया है। साथ ही यह कहा है कि संदेश साफ है उग्र राष्ट्रवाद के नाम पर हिंसा स्वीकार्य है। यहां तक कि अदालतें भी सुरक्षित स्थान नहीं हैं। राज्य या बीजेपी को चुनौती खुद को जोखिम में डाल कर मोल लें।

न्यूयार्क टाइम्स ने लिखा है कि ‘पीट-पीट कर मार डालने को आतुर मानसिकता रखने वाली भीड़’ की जिम्मेदारी मूल रूप से मोदी सरकार पर ही है। भारतीय नागरिकों के पास अपने लोकतांत्रिक अधिकारों के प्रयोग के लिए सरकारी धमकियों के प्रति नाराजगी जताने का अधिकार है। अखबार ने मोदी से अपने मंत्रियों और पार्टी को काबू करने और मौजूदा संकट को खत्म करने का सुझाव दिया है। (newsmanthan)

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles