facebook clear to follow its policy otherwise leave facebook

facebook clear to follow its policy otherwise leave facebook

जनवरी 1 से ही फेसबुक ने अपनी टाइमलाइन पालिसी ने कुछ बदलाव किये थे तथा 12 जनवरी को उन्होंने पोस्ट करके सभी को इसके बारे में सूचना दी थी की अब फेसबुक वाल पर आपको कम से कम न्यूज़ दिखाई जाएँगी. फेसबुक मित्रों और परिचितों की पोस्ट पर अधिक ध्यान दे रहा है. इसी कारण विश्वभर के न्यूज़ पब्लिशर्स ने अचानक से अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक की भारी गिरावट महसूस की है.

फेसबुक ने जनवरी 2017 में कैंपबेल ब्राउन को न्यूज पार्टनरशिप के रूप में नियुक्त किया था, उस समय उन्होंने लिखा था की “वह न्यूज संगठनों और पत्रकारों की मदद करेगी, ताकि फेसबुक के माध्यम से न्यूज को और अधिक प्रभावी बनाया जा सके”. एक अन्य पोस्ट जिसमे उन्होंने कहा था की “मै डायरेक्टली अपने पार्टनर्स के साथ काम कर रही हूँ, यह समझा जा सकता है की फेसबुक उनकी न्यूज की रीच कैसे बढ़ा सकता है.”

लेकिन एक ही साल के अंदर ऐसा क्या हो गया जो वह अपनी बात से पलट गयी?

कोड मीडिया के मंच पर सोमवार को ब्राउन ने कहा की “मेरी नौकरी फेसबुक पर उन लोगों की भर्ती करना नहीं है जो अपनी न्यूज को फेसबुक पर पब्लिश करना चाहते हैं.” उन संगठनों के स्टफ को फेसबुक पर रखने के लिए मै नौकरी नहीं करती हूँ.”

ब्राउन को पुछा गया की क्या वह आश्चर्यचकित हुई जब उन्हें पता चला की “ब्राजील के सबसे बड़े अखबार फोलहा डे साओ पाओलो ने अपने 6 मिलियन फेसबुक फोल्लोवेर्स के लिए न्यूज पब्लिश करना बंद कर दिया है तो ब्राउन ने जवाब दिया की “नहीं”, ब्राउन ने कहा की “ईमानदारी से कहूँगी की नहीं, मै आश्चर्यचकित नहीं हुई हूँ, हाँ थोड़े समय के लिए उसने ऐसा किया होगा, हमेशा के लिए ही न्यूज पब्लिश नहीं करेंगे तो यह भी मेरी नौकरी नहीं है की मै उन्हें जाकर मनाऊं.”

उन्होंने कहा की “मेरा काम बस यह सुनिश्चित करना है कि फेसबुक पर अच्छी खबरे लगी हैं या नहीं और उन पब्लिशर्स की खबरों की गुणवत्ता देखना है जो अच्छी खबर देकर फेसबुक पर रहना चाहते हैं, उन्होंने कहा की “अगर किसी को लगता है कि यह उनके लिए सही मंच नहीं है, तो उन्हें फेसबुक पर नहीं जाना चाहिए.”

ब्राउन ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि हम में से कोई भी जानता है कि पत्रकारिता का भविष्य कैसा दिखता है” . ब्राउन ने कहा कि वह चाहते हैं कि फेसबुक के पब्लिशर्स को ज्यादा स्पष्ट रूप से संवाद करना चाहिए.” उन्होंने कहा की “पब्लिशर्स के लिए हमारा यह सन्देश है की अगर तूम हमारे साथ बड़े एक्सपेरिमेंट करने के लिए तैयार हो तो हमारे साथ इन एक्सपेरिमेंट में कूद जाओ.” वरना फेसबुक छोड़ दो.”

एक और फेसबुक हमेशा पब्लिशर्स के लिए कुछ ऐसा करता है की वह फेसबुक पर काम ना करें तो वहीं वेब-बेस्ड पब्लिशर्स डिस्प्ले एडवरटाइजिंग पर निर्भर रह सकते हैं, ब्राउन द्वारा कहा गया यह बयान या तो हमारी शर्ते मानकर हमारे साथ आ जाओ या तो छोड़ दो, से शायद हर पब्लिशर्स को बुरा लगेगा. परन्तु यह वास्तविकता में कुछ और बातों के लिए बहस की शर्तों को भी रीसेट करता है यह एक स्वागत योग्य कदम की अपेक्षाओं को पार करने के लिए आसान है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें