ओमिक्रॉन के खतरे के बीच 15 दिसंबर से नहीं शुरू होगी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें

कोविड-19 के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के खौफ का असर पूरी दुनिया में दिखने लगा है। इस नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के चलते 5 दिसंबर से बहाल होने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का फैसला टालना पड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मैं भी अधिकारियों से कहा था कि फैसले को फिर से देख ले।

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एवीएशन की ओर से आज बुधवार को नोट जारी करके कहा गया है कि बदले वैश्विक परिदृश्‍य के चलते स्थिति पर गहराई से नजर रखी जा रही है और सभी हित धारकों से चर्चा के बाद इंटरनेशनल यात्री सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला लिया जाएगा।

आगे कहा गया है कि इस फैसले को उचित समय पर सूचित कर दिया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अधिकारियों को सलाह दी कि कोरोनावायरस के इस नए वेरिएंट बी 1.1.529 या ओमिक्रॉन को ध्यान में रखते हुए सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लेकर योजना की समीक्षा करें।

प्रधानमंत्री ने कोविड-19 और टीकाकरण से संबंधित जो स्थिति चल रही है उसकी समीक्षा के लिए आयोजित एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह बात कही थी। साथ ही पीएम ने विदेश में आने वाले की निगरानी और जोखिम वाले देशों पर ध्यान देने के साथ मौजूद दिशा निर्देश के आधार पर कोविड टेस्ट करने की बात भी कही थी।

विज्ञापन