WhatsApp किया जाये बैन, लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका

गुड़गांव के आरटीआई कार्यकर्ता सुधीर यादव ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की हैं. जिसमे उन्होंने वॉट्सएप, टेलीग्राम और दूसरे मैसेंजर सर्विसेस को बैन करने की मांग की है.

सुधीर ने याचिका दायर करने का कारण बताते हुवे कहा कि वॉट्सएप के पास एंड टू एंड इन्क्रिप्शन है जिसके कारण भारत सरकार इन मैसेजेस को एक्सेस नहीं कर सकती. जो देश की सुरक्षा के लिए एक खतरा है.

इस इन्क्रिप्शन के कारण केवल मैसेज भेजने और रिसीव करने वाले व्यक्ति ही इन्हें देख, पढ़ या सुन सकते हैं. वॉट्सएप भी इन्हें नहीं देख सकता. इन मैसेजेस को एक लॉक के जरिए सुरक्षित किया गया है. रिसीवर और सेंडर के पास ही स्पेशल कीज़ होती हैं, जो इन्हें अनलॉक कर पढ़ सकती हैं.

सुधीर ने पहले वॉट्सएप के इन्क्रिप्शन रूल्स की आरटीआई कानून के तहत जानकारी मांगी थीं लेकिन जब उन्हें कोई सूचना नहीं मिली, तो उन्होंने फिर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया.

 

विज्ञापन