doit

देश भर में अल्पसंख्यकों, दलितों और आदिवासियों को दक्षिणपंथियों के द्वारा निशाना बनाया जाता रहा है. कभी गौरक्षा के नाम पर तो कभी लव जिहाद के नाम पर लोगो की हत्या की जा रही है. वहीँ दूसरी और ऐसे मामले का सच सामने लाने के बजाय मीडिया का बड़ा हिस्सा इन घटनाओं की लीपा पोती में लग जाता है.

ऐसे में अब देश में हेट क्राइम का एक मुकम्मल डेटा बैंक तैयार किया जा रहा है. जिसमे केस का स्टेटस, FIR की कॉपी से लेकर वकील तक से सम्पर्क करने का प्लेटफॉर्म तैयार किया गया है. DATA OF THE OPPRESSED (DOTO DATABASE) नाम की वेबसाइट बनाकर आम जनता को ये सहूलत प्रदान की गई है.

इस वेबसाइट पर जाकर हेट क्राइम से जुडे आँकड़े प्राप्त किये जा सकते हैं. इस वेबसाइट के माध्यम से किसी भी घटना से जुड़ी जानकारी मसलन उस केस की कार्रवाई उससे सम्बंधित पक्ष की सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त की जा सकती है.

dotodatabase.com की औपचारिक शुरुआत 7 मार्च, 2018 को दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब के सभागार में की गई. जिसमे हर केस से जुड़ी सिलसिलेवार जानकारी, देशभर में हेट क्राइम की वास्तविक तस्वीर और उसके वास्तविक रूप में सामने की कोशिश की गई.

इस वेबसाइट के जरिए अपराध की श्रेणी से लेकर पीड़ित पर उसका क्या प्रभाव पड़ा समेत तमाम जानकारी एक जगह एकत्र की गई है


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें