Monday, October 18, 2021

 

 

 

एसिड अटैक की शिकार जफ़ा को जाकिर ने बनाया अपना हमसफ़र

- Advertisement -
- Advertisement -

pk

अपने ही चचेरे बहनों के हाथों एसिड अटैक की शिकार हुई जफां के जिंदगी में जाकिर के जरिए बड़ी ख़ुशी आई है. देश की सीमाओं की हिफाजत करने वाले जाकिर ने जफां को अपना हमसफर बनाने का फैसला लिया है.

हिमाचल के कांगड़ा के इस जवान ने अपनी मंगेतर का एसिड अटैक होने के बाद भी साथ नहीं छोड़ा बल्कि उसके साथ अपनी पूरी जिंदगी बिताने का फैसला किया. आज जाकिर ने तेजाब हमले में बुरी तरह से झुलसी जफां (शालू) के साथ निकाह किया.

जाकिर चीन बॉर्डर पर तैनात है. दरअसल, दोनों की शादी 6 नवंबर को  होनी थी, लेकिन 26 अक्तूबर कोपीने के पानी के लिए दो चचेरी बहनों ने जफां पर तेजाब फेंक दिया था. जैसे ही जाकिर को इस बारें में जानकारी मिली वह बिना देर इलाज करवाने में जुट गया.

इलाज के दौरान भी जाकिर जफां के साथ हर समय रहा. टांडा मेडिकल कॉलेज, आईजीएमसी व पीजीआई में उसका इलाज कराता रहा. जफा के पिता मुन्शीद्दीन ने बताया कि जाकिर ने किसी की परवाह किए बिना उनकी बेटी का साथ दिया.

जाकिर ने तेजाब हमले के बाद भी शालू से निकाह करने की बात कही, जिसे हम भी नाकार नहीं सके. दोनों का निकाह बड़ी सादगी के साथ कर दिया गया. उन्होंने बताया कि अब भी शालू का इलाज चल रहा है. हर रोज मरहम पट्टी के लिए ज्वाली जी अस्पताल जाना पड़ता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles