Courtesy: Lokbharat

अहमदाबाद  देश भर मे सांप्रदायिक ताकते मुल्क की सदियों पुरानी गंगा-जमुनी तहजीब को खत्म करने में जुटी हुई है। जो न केवल अल्पसंख्यक समुदाय को हिंसा का शिकार बना रही है। बल्कि अब तो बहुसंखयक समुदाय भी अछूता नहीं रहा है।

मामला अहमदाबाद का है। जहां कुछ युवकों ने एक हिन्दू शख्स के साथ इसलिए पिटाई की कि उसने ईद पर मुस्लिम टोपी पहने हुए फोटो को अपनी व्हाट्सअप्प प्रोफ़ाइल की पिक्चर बनाया था।

नारोल क्षेत्र के दिगंबर सोनार को सचिन, विजय, कचौरी और एक अज्ञात शख्स ने पहले तो धमकाया और फिर बाद मे मारपीट की। जिसमे न केवल वह बल्कि उसका चचेरा भाई भी घायल हो गया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सोनार ने बताया कि सचिन, जो दोस्त और एक व्हाट्सएप समूह का सदस्य हैं, ने मेरी डिस्प्ले तस्वीर देखी और टोपी पहनने के लिए उसके सात अपमानजनक व्यवहार करना शुरू कर दिया। जिसके बाद सचिन और एक और दोस्त विजय मुझे अमरीवाड़ी में सत्यमनगर सब्जी बाजार में मिले और टोपी के बारे में मुझे धमकी देना शुरू कर दी।

सोनार ने आगे बताया, उन्होने धमकाते हुए कहा कि हम हिंदू हैं और हमें कभी भी टोपी पहनना नहीं चाहिए। फिर वे जबरन एक अलग जगह पर ले गए और मेरे साथ मार पीट करना शुरू कर दी, पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और जांच में जुट गई है।

Loading...