ev

ev

चुनाव के दौरान कथित तौर पर ऐसे कई मामले सामने आ चुके है, जिनमे मतदाताओं द्वारा कोई भी बटन दबाने पर एक ही पार्टी को वोट मिलता है. साथ ही कई राजनीतिक पार्टियाँ भी EVM में छेड़छाड़ का आरोप लगा चुकी है. इसी बीच अब एक युवक ने EVM हैक कर किसी भी उम्मीदवार को जिताने का दावा किया है.

22 वर्षीय सचिन राठौड़ ने हिमाचल विधानसभा चुनाव के दौरान कुछ प्रत्याशियों को मोबाइल फोन पर ऐसे मैसेज किए थे और कॉल भी की थी. जिसमे उसने 10 लाख रूपए के बदले EVM हैक कर चुनाव जीताने का दावा किया था. हालांकि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राठौर ने उम्मीदवारों को मेसेज कर कहा कि ईवीएम मशीन में इस तरह से प्रोग्रामिंग कर दी जाएगी की वे मनचाहे वोट प्राप्त कर सकते हैं. आरोपी को पुलिस ने महाराष्ट्र के नाधेर जिला से गिरफ्तार किया है. इस मामले में चुनाव आयोग की तरफ से पुलिस में शिकायत की गई थी कि कोई शातिर ईवीएम को हैक करने की पेशकश रच रहा है.

पुलिस ने आरोपी को मंगलवार शाम को कोर्ट में पेश किया. जिसके बाद आरोपी को अदालत ने 7 दिन के रिमांड पर भेजा दिया. इस मामले में एसपी सौम्या साबंशिवन ने कहा कि आरोपी ने इस तरह की हरकत महाराष्ट्र के नानदेड़ में भी नगर निकाय चुनाव में की थी. फिलहाल शिमला लाकर मैडिकल करवाया गया है.

उन्होंने बताया कि आरोपी से पूछताछ जारी है. जल्द ही पता लगाया जाएगा कि किस तरह से उसने ईवीएम को हैक करना था.

Loading...