उत्तरप्रदेश में एक बार फिर से खाकी दागदार हुई है. कथित तौर पर एक पुलिसकर्मी ने अपने सरपंच दोस्त के साथ एक नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बालात्कार की वारदात को अंजाम दिया. दोनों आरोपियों के खिलाफ निलंबन और मुकदमा दर्ज करने के आदेश दे दिए गए है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, गोपालनगर के बाहरी इलाके में तैनात धरम नामक कांस्टेबल गांव के सरपंच के साथ मिलकर एक नाबालिग लड़की का बलात्कार कर रहे था. इस दौरान लड़की उसके चंगुल से निकलकर भाग गई और उसने चिलाना शुरू कर दिया. जिसके चलते आसपास के लोग उसकी मदद के लिए आगे आये.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ग्रामीणों ने सिपाही की जमकर पिटाई की. इस घटना की जानकारी जैसे ही उसके पिता को लगी उसने सदमे से दम तोड़ दिया. किशोरी के पिता की मौत का फायदा उठाकर सिपाही वहां से फरार हो गया, लेकिन बाढ़ के पानी मे फंस गया. सिपाही को रेवती कोतवाल कुवर प्रताप सिंह ने गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस प्रशासन ने आरोपी कांस्टेबल को सस्पेंड करते हुए उसके खिलाफ धारा 354 व 306 आईपीसी व 7 /8 पॉक्सो ऐक्ट का मुकदमा पंजीकृत किया है. पुलिस ने ग्रामीणों को किसी तरह शांत करा लड़की के पिता के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

इस घटना को लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है. गांव में भारी संख्या में पुलिस को तैनात किया गया है. आरोपी सरपंच अब भी फरार है.

Loading...