bareillys dm 650x400 61517311368

bareillys dm 650x400 61517311368

उत्तरप्रदेश की योगी सरकार ने कासगंज हिंसा पर सवाल उठाने को लेकर बरेली के जिलाधिकारी (डीएम) राघवेंद्र विक्रम सिंह पर कार्यवाही करने का मन बना लिया है. योगी सरकार डीएम पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की तैयारी में है.

मामले की जांच कर रहे एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘डिविजनल कमिश्नर की रिपोर्ट के आधार पर शुरुआती तौर पर उन्हें एक सरकारी नौकर के रूप में दुर्व्यवहार का दोषी ठहराया जाता है. उनके खिलाफ अगले एक या दो दिन में  चार्जशीट दाखिल की जाएगी.’ माना जा रहा है कि राघवेंद्र विक्रम सिंह को सस्पेंड किया जा सकता है.

बता दें कि डीएम राघवेंद्र विक्रम सिंह ने कासगंज से जुड़े मामले में मुस्लिम मोहल्लों में जबरदस्ती जुलूस ले जाने और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने को लेकर फेसबुक पर कुछ सवाल उठाए थे. उन्होंने लिखा था कि ”अजब रिवाज बन गया है. मुस्लिम मोहल्लों में जबरदस्ती जुलूस ले जाओ और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाओ. क्यों भाई वे पाकिस्तानी हैं क्या? यही यहां बरेली के खेलम में हुआ था. फिर पथराव हुआ, मुकदमे लिखे गए….”

No automatic alt text available.

इसी के साथ उन्होंने पूछा था कि भारत का पाकिस्तान से बड़ा दुशमन तो चीन है. फिर चीन मुर्दाबाद के नारे क्यों नहीं लगाए जाते. उन्होंने लिखा, ‘चीन तो बड़ा दुश्मन है, तिरंगा लेकर चीन मुर्दाबाद क्यों नहीं…? हालांकि विवाद बढ़ने पर उन्हें अपनी पोस्ट वापस लेनी पड़ी थी.

इस मामले में दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने डीएम राघवेंद्र की हिम्मत की सराहना की है. आयोग ने कहा कि देश आप के साथ है. आप ने देश और समाज के प्रति अपने दायित्व को निभाया है. ऐसे में आप को न्याय और अधिकार की लड़ाई में खुद को अकेला समझने की जरूरत नहीं है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें