taj

taj

उत्तरप्रदेश की पर्यटन सूची से विश्व की सबसे खुबसूरत इमारत ताजमहल को बाहर निकालने वाली योगी सरकार ने अब 2018 के सरकारी कैलेंडर में जगह दी है. ये कैलेंडर दीपावली पर जारी किया गया.

धनतेरस के मौके पर राज्य सरकार की और से जारी ये कैलेंडर ऐसे स्थिति में सामने आया है. जब बीजेपी विधायक संगीत सोम की और से ताजमहल को भारतीय संस्कृति पर काला धब्बा बताया गया. साथ ही इसका निर्माण कराने वाले मुग़ल बादशाह को देश का गद्दार करार दिया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सोम के इस बयान की देश भर में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में आलोचना हुई. जिसके चलते बीजेपी सहित पूरी मोदी सस्कार को बेकफूट पर आना पड़ा. ऐसे में स्पष्ट है कि कैलेंडर को आनन-फानन में जारी कर योगी सरकार की और से डैमेज कण्ट्रोल की कोशिश की गई.

कैलेंडर में जुलाई महीने के पृष्ठ पर ताजमहल को पर्यटन स्थल के रूप में दर्शाया गया है. ताजमहल के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर है. इस पृष्ठ का स्लोगन है ‘सबका साथ सबका विकास.’

कैलेंडर में गोरखनाथ मंदिर, काशी विश्वनाथ मंदिर,विंध्याचल, मथुरा, झांसी का किला, सारनाथ और ललितपुर को जगह मिली मिली है। इसके अलावा पीलीभीत का गुरुद्वारा, मथुरा की बरसाना होली और कृष्ण ज्मस्थली,अयोध्या की राम की पैड़ी और इलाहाबाद का त्रिवेड़ी संगम भी कैलेंडर में दर्शाये गये हैं.

Loading...