योगी सरकार ने विश्व के सातवें अजूबे को राज्य की पर्यटन सूची से किया बाहर

ताजमहल को दुनिया का सातवा अजूबा कहा जाता है. प्यार की इस निशानी को निहारने के लिए दुनिया भर से करोड़ो लोग आगरा आते है. बावजूद इसके योगी सरकार ने अपनी पर्यटन स्थलों की लिस्ट में से ताजमहल को हटा दिया.

सीएनएन की खबर के अनुसार, योगी सरकार ने यूपी की नई ‘टूरिस्ट डेस्टिनेशन’ लिस्ट जारी की है, जिसमें ताजमहल को शामिल नहीं किया गया.सरकार द्वारा जारी की गई इस बुकलेट में वाराणसी की गंगा आरती, गोरखपुर की गोरक्ष पीठ, मथुरा-वृंदावन, अयोध्या सभी प्रमुख धार्मिक स्थलों को जगह दी गई है.

ध्यान रहे ताजमहल को लेकर मुख्यमंत्री बनसे से पहले योगी आदित्यनाथ के विवादित बयान आते रहे. कई बार सीएम योगी ताजमहल को भारतीय संस्कृति का हिस्सा मानने से इंकार कर चुके हैं.

बुकलेट में उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश में पर्यटन के लिए क्या-क्या कर रही है? वर्तमान में यूपी में पर्यटन की क्या स्थिति है? इसकी जानकारी दी गई है.

हालांकि इस मामले में अब तक योगी सरकार का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. जिसमें बताया गया हो कि ताजमहल को क्यों शामिल नहीं किया गया?

विज्ञापन