योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में सभी स्लाटर हाउस तीन दिन के लिए बंद

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण के बीच यूपी सरकार ने 22 से 24 मार्च की रात तक सभी स्लाटर हाउसों को बंद रखने की एडवाइजरी जारी की गई है। रोक के बाद शहरों में मीट की सप्लाई प्रभावित हुई है।

पशुधन मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने विभागीय अधिकारियों को आदेश दिए हैं कि कल यानी 22 मार्च से अगले 3 दिन तक सभी जिलों में लाइसेंसी स्लॉटर हाउस बंद रहेंगे। पशुधन विभाग के निदेशक रोग नियंत्रण डॉक्टर एस के श्रीवास्तव ने बताया की विभागीय मंत्री के आदेशों के बाद विभाग की ओर से प्रदेशभर के लिए एडवाइजरी जारी कर दी गई है इसके तहत अब सभी जिलाधिकारी आगे की कार्रवाई करेंगे।

डॉ श्रीवास्तव ने बताया की स्लाटर हाउस भी लोगों के एकत्रीकरण का स्थल हुआ करता है लिहाजा कोरोना वायरस के खिलाफ जारी अभियान में इन्हें बंद रखना जरूरी होगा। बता दें कि फिलहाल यूपी के 15 शहरों में इस तरह के स्लाटर हाउस का संचालन किया जा रहा है।

अलीगढ़ में एक साल में 13 लाख से ज़्यादा भैंस कटती हैं। वहीं, उन्नाव में 7 लाख तो बरेली में 4 लाख भैंस हर साल कटती हैं। नगर विकास विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार 15 शहरों में हर रोज करीब 12 हजार भैंस कटती हैं।

यूपी के जिन 15 शहरों में सरकारी स्लाटर हाउस हैं वो अलीगढ़, उन्नाव, बरेली, आगरा, शामली, झांसी, बाराबंकी, बुलन्दशहर, मुजफ्फरनगर, अमरोह, बिजनौर, सहारनपुर, रामपुर, संभल, गाज़ियाबाद हैं। हर स्लाटर हाउस में भैंस काटने और उसे बेचने का काम प्राइवेट कंपनी कर रही हैं।

विज्ञापन