लखनऊ. जिले के गुडंबा थाने में इंसाफ की गुहार लगाने पहुंची महिला ने सुनवाई न होते देख कोतवाल के पैर पकड़ लिए और गिड़गिड़ाने लगी। इस घटना का किसी ने वीडियो बना लिया। मामला बढ़ा तो अब कोतवाल को लाइन हाजिर कर जांच के आदेश दिए गए हैं।

जानकारी के अनुसार शनिवार को प्लाईवुड फैक्ट्री में हादसे का शिकार हुए मजदूर आकाश यादव उर्फ टिंकू यादव की मां हाथ जोड़कर प्रभारी निरीक्षक तेजप्रकाश सिंह के सामने आरोपी फैक्ट्री मालिक के खिलाफ कार्रवाई की गुहार लगा रही थी। जबकि कुर्सी पर बैठे तेजप्रकाश सिर पर हाथ रखे आराम फरमा रहे थे। ऐसे में किसी ने वीडियो बना लिया।

Loading...

वीडियो के वायरल होने के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने कार्रवाई की। ट्रेनी आईपीएस अभिषेक वर्मा को मामले की जांच सौंपी गई है। वहीं पीजीआई थाने के प्रभारी निरीक्षक को गुडम्बा थाने ट्रांसफर कर दिया है। पीजीआई थाने की जिम्मेदारी अब विकास कुमार पांडेय को सौंप दी गई है, विकास अभी तक सर्विलांस सेल के प्रभारी थे।

इंस्पेक्टर गुडंबा तेज प्रकाश सिंह के मुताबिक मृतक के भाई ने फैक्ट्री मालिक अनूप गुप्ता के खिलाफ लापरवाही का आरोप लगाया है, मुकदमा दर्जकर उसकी तलाश की जा रही है। फैक्ट्री बिना परमीशन और दमकल एनओसी के चल रही थी। घटना के बाद फैक्ट्री मालिक फरार हो गया।

बड़ाखेमपुर बीकेटी निवासी किसान राकेश यादव के परिवार में पत्नी राकेशा बेटे जगमोहन यादव, पिंटू यादव, विकास यादव हैं। सबसे छोटा आकाश यादव (20) उर्फ टिंकू था। जगमोहन के मुताबिक आकाश गुडंबा थाना क्षेत्र के कुर्सी रोड पर पलका चौराहा स्थित अजय गुप्ता की प्लाईवुड फैक्ट्री में करीब दो सालों से काम करता था। गुरुवार रात को भी दोनों भाई फैक्ट्री में काम करने गए थे। शुक्रवार सुबह 7:30 बजे आकाश मशीन में दब गया और उसकी मौ’त हो गई।

पिंटू ने बताया कि फैक्ट्री की मशीन चार दिन से खराब चल रही थी। कहने के बावजूद मशीन को मिस्त्री बुलाकर ठीक नहीं कराया गया। मालिक पर जब भी दबाव बनाओ वह यह कहकर टाल देता था कि मशीन ठीक है। पिन्टू ने बताया अगर मालिक मशीन को ठीक करा देता तो उसके भाई आकाश की मौ’त न होती।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें