2018 2image 12 47 303242300fire ll

2018 2image 12 47 303242300fire ll

उत्तरकाशी। उत्तरकाशी के एक गाँव के लिए यह रात कयामत से कुछ कम ना रही होगी जब उनकी आँखों के सामने धूं-धूं करके पूरा गाँव जल उठा और देखते ही देखते सब कुछ स्वाहा हो गया. बड़ी तादात में जानवरों के जलकर मरने की खबर आ रही है, गाँव के 45 घर जलकर राख बन चुके हैं.
उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में देर रात भीषण आग लग गई। इस भयानक आग हादसे में 46 घर एक साथ ही जलकर खाक हो गए। पुलिस और प्रशासन दोनों ही राहत और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। दूर-दराज इलाका होने के चलते राहत और बचाव कार्य शुरू होने में देर हुई है। हालांकि फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं पाया है। यहां गौर करने वाली है कि इस भीषण आग हादसे में किसी तरह के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ है।

गौरतलब है कि उत्तरकाशी के सावनी गांव में देर रात लगी इस भीषण आग की वजह से करीब 50 घरों के लोग बेघर हो गए। वहीं 200 से अधिक मवेशी के आग में झुलसने की खबर है। जानकारी के अनुसार रात करीब डेढ़ बजे आग लगी। गांव में सिर्फ चार घर ही सुरक्षित बचे हैं। बताया जा रहा है कि गांव में ज्यादातर घर लकड़ी के होने की वजह से आग फैलती चली गई।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आग लगते ही ग्रामीण घरों से बाहर निकल आए, बच्चों और बुजुर्गों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। जैसे-जैसे आग बढ़ती गई तो ग्रामीण अपने बच्चों के साथ खेतों की ओर भागे। पूरे गांव में चीख-पुकार मचने लगी। इसके बाद मवेशियों को भी बचाने का प्रयास किया लेकिन तब तक करीब दो सौ मवेशियां आग की चपेट में आ गईं। देवदार की लड़कियां होने के चलते आग बुझाने में ग्रामीणों के सभी प्रयास असफल रहे।

Loading...