वसीम रिजवी का विवादित बयान – हरे चांद तारों वाले झंडे लगाने वाले देश के गद्दार

6:58 pm Published by:-Hindi News
वसीम रिजवी

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी का फिर से मुस्लिमों के खिलाफ विवादित बयान सामने आया है। जिसमे उन्होने हरे झंडे को इस्लामिक झंडा बताने वाले लोगों को देश का गद्दार बताया है।

मंगलवार को वसीम रिजवी ने वीडियो जारी करते हुए कहा, हिंदुस्तान के कट्टरपंथी मुसलमानों को अब यह तय करना होगा कि उन्हें हिन्दुस्तान के तिरंगे से मोहब्बत करके उसे बुलंद करना है या फिर इस्लामिक झंडा बताकर हरे और चांद तारे वाले झंडे को, जो कि पाकिस्तानी झंडे का रुप है, उसे अपने घरों और इबादतगाहों पर लगाना है?

वसीम रिजवी ने आगे कहा कि हरा चांद तारों वाला झंडा लहराने वाले लोग गद्दार तो हो सकते हैं, लेकिन हिन्दुस्तानी मुसलमान नहीं हो सकते। हिन्दुस्तान में रहना है तो तिरंगे से, हिन्दुस्तान से मोहब्बत करनी होगी, राष्ट्रगान को गाना होगा।

वसीम रिजवी ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट में एक रिट याचिका भी दाखिल की है। जिसमें मांग की गई है कि हिन्दुस्तान में चांद तारे वाला झंडा नहीं फहर सकता और इस संबंध में जल्द ही फैसला आ जाएगा।

इससे पहले वसीम रिजवी ने यूपी के मदरसों पर सवाल खड़े किए थे। रिजवी ने कहा कि यूपी के मदरसों में आजकल किताबों की जगह हथियार बरामद हो रहे हैं जो आने वाले वक्त में हिन्‍दुस्‍तान के लिए एक बड़ा खतरा है।

उन्होंने मदरसों में चल रही संदिग्ध गतिविधियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन मदरसों में ISIS के सिपाहियों को तैयार किया जा रहा है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें