वसीम खान बनाये गए MSO राजस्थान के संयुक्त सचिव

7:37 pm Published by:-Hindi News
wasimm

जयपुर, भारतीय मुसलमानों की छात्रो और नौजवानों की सबसे बड़ी संस्था मुस्लिम स्टूडेंट्स आर्गेनाईजेशन ऑफ़ इंडिया यानी MSO के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जयपुर के वसीम खांन को संगठन में अहम् ज़िम्मेदारी देते हुए संयुक्त सचिव के पद पे मनोनीत किया है और साथ ही जयपुर संभाग का प्रभारी भी बनाया है, इससे पहले वसीम संगठन के विभिन्न पदों पर रह चुके है जिनमे जयपुर जिलाध्यक्ष का पद भी शामिल है.

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए वसीम ने कहा कि संगठन ने जो ज़िम्मेदारी उनको सौंपी है उसपर वो पूरा पूरा उतरने की कोशिश करेंगे और इस्लाम की उदारवादी विचारधारा जिसको सूफीवाद कहा जाता है उसके प्रचार और प्रसार का पूरा प्रयास करेंगे.

उन्होंने कहा कि कहाकि भारत सूफ़ीवाद का घर है और जब भी इस्लामी दुनिया को रहनुमाई की आवश्यकता हुई है भारत ने नया रास्ता दिखाया है, और MSO युवाओ में इसी सूफीवाद को बढ़ावा देने में प्रयासरत है. उन्होनो छात्रो और युवाओ से सामाजिक बुराईयों सूदखोरी, नशाखोरी तथा ज़िनाखोरी (बलात्कार) से दूर रहने का आह्वान किया.

वसीम ने कहा कि एम.एस.ओ. आने वाले सत्र से स्कूल, कॉलेज व मदरसे में छात्रों के साथ मिलकर उनके बीच नैतिकता की मुहिम चलायेगी ताकि छात्रो के बीच पनप रहीं बुराईया खत्म की जा सके एवं छात्र शक्ति का सदुपयोग समाज एवं देश हित में किया जा सके। साथ ही तालीमी बेदारी मुहिम के तहत प्रदेश भर में “एजुकेशनल अवेयरनेस कैम्पन तथा छात्रो के दरमियान सूफीवाद की विचारधारा को प्रोत्साहित करने के लिए “अध्यात्मिक शिविर”का भी आयोजन करेगी.

उन्होंने कहा कि छात्र अपनी सलाहियत और शक्ति का सदुपयोग देश हित में करे और भारत को एक विकसित व शिक्षित मुल्क बनाने में अपना योगदान दे. वसीम खान को संयुक्त सचिव बनाने पर MSO के पदाधिकारियों समेत जावेद खान, मुनाजिर शेरानी, इकबाल मंसूरी, अयाज़ नूरी ने मुबारकबाद पेश किया.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें