Saturday, June 19, 2021

 

 

 

जुमला साबित हुआ ‘सबका साथ-सबका विकास’ यूपी-उत्तराखंड में किसी मुस्लिम को टिकट नहीं

- Advertisement -
- Advertisement -

सबका साथ, सबका विकास बीजेपी का ये नारा सिर्फ चुनाव प्रचार तक सीमित रहते हुए हकीकत में सिर्फ एक जुमला साबित हुआ हैं. इस बात की पुष्टि बीजेपी की और से यूपी और उत्‍तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए जारी पहली सूची से होती हैं. जिसमे एक भी उम्मीदवार मुस्लिम नहीं हैं.

भाजपा ने की और से जारी लिस्ट में यूपी में 149 और उत्तराखंड में 64 उम्मीदवारों को टिकिट मिला हैं. लेकिन इसमें किसी भी मुस्लिम को टिकट नहीं दिया गया. जबकि पार्टी में लंबे समय से अल्पसंख्यक मोर्चा भी सक्रिय है. इसके साथ ही मुस्‍लिम राष्‍ट्रीय मंच के दावें भी अलग हैं.

अक्‍सर पीएम मोदी भी अपने भाषणों में सबका साथ, सबका विकास का नारा देकर मुसलमानों को लुभाते हैं. लेकिन हकीकत अब सबके सामने हैं. अब ऐसे में सवाल उठ रहा हैं कि 403 विधानसभा सीट वाले यूपी में एक भी ऐसा मुस्‍लिम चेहरा नहीं हैं जिसे मोदी जी चुनाव मैदान में उतार सके.

यूपी-उत्‍तराखण्‍ड सहित 213 उम्‍मीदवारों की सूची में एक बार फिर भाजपा और पीएम मोदी से मुसलमाओं को निराशा ही हाथ लगी हैं. 2011 की जनगणना के अनुसार संभल में 77.67, अमरोहा में 73.80, रामपुर में 50.57, मुरादाबाद में 46.79, बदायूं में 43.94, देवबंद में 71.06 और कैराना शहर में 80.74 प्रतिशत मुस्‍लिम रहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles