jyo

jyo

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने बड़ा फैसला लिया है. चुनाव आयोग ने घोषणा करते हुए कहा कि ईवीएम के वोटों के साथ वीवीपीएटी पर्चियों की भी गिनती की जाएगी.

मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति ने दो दिन के गुजरात दौरे की समाप्ति के दौरान कहा कि प्रत्येक विधानसभा सीट के एक मतदान केंद्र की वीपीएटी पर्चियों की भी गढ़ना होगी. साथ ही उन्होंने इस बात का भी संकेत दिया कि विधानसभा चुनाव दिसंबर में कराए जा सकते हैं.

उन्होंने कहा कि अगर किसी  उम्मीदवार को किसी मतदान केंद्र के वोटो को लेकर शंका है तो वह निर्वाचन अधिकारी से वीवीपीएटी पर्चियों की गिनती करने के लिए कह सकता हैं. ध्यान रहे राज्य में विधानसभा चुनाव के दौरान करीब 75 हजार EVM मशीन का इस्तेमाल होगा. इनके साथ VVPET (वोटर वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीन भी लगी हुई होगी.

दरअसल चुनाव परिणामो में गड़बड़ी की आशंका के चलते गुजरात की पाटीदार नेता रेशमा पटेल ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल कर EVM के साथ VVPET लगाकर ही चुनाव कराने की मांग की थी.

ऐसे में उच्चतम न्यायालय के आदेश के चलते गुजरात देश का पहला राज्य बनने जा रहा है. जहाँ चुनावों में EVM के साथ VVPET (वोटर वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीन का प्रयोग होगा.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें