देहरादून | उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता विजय बहुगुणा ने मुख्यमंत्री हरीश रावत और उनके मीडिया सलाहकार को क़ानूनी नोटिस भेजा है. विजय बहुगुणा ने नोटिस के जरिये हरीश रावत से मांग की है की वो उनसे बिना शर्त सार्वजनिक माफ़ी मांगे. ऐसा न करने की स्थिति में बहुगुणा ने मानहानि का केस करने की धमकी दी है.

दरअसल कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री हरीश रावत के मीडिया सलाहकार सुरेन्द्र कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस करके आरोप लगाया था की 2011 में विजय बहुगुणा के मुख्यमंत्री रहते हुए लन्दन स्थित एक कंपनी को काफी लाभ पहुँचाया गया. 2011 में इस कंपनी की कुल बिक्री 50 हजार पाउंड थी जो अप्रैल 2013 में बड़े ही नाटकीय तरीकेस से बढ़कर 25 करोड़ पाउंड हो गयी.

सुरेन्द्र कुमार ने पुरे मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय से कराने की मांग की थी. उन्होंने इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट का हवाला देते हुए यह भी आरोप लगाया की इसी कम्पनी की एक अनुषंगी कंपनी के साथ विजय बहुगुणा के बेटे का सम्बन्ध है. जो संदेह पैदा करता है. अब इस मामले ने रोचक मोड़ ले लिया है. विजय बहुगुणा ने हरीश रावत को अपने वकील के जरिये क़ानूनी नोटिस भेजा है.

विजय बहुगुणा ने हरीश रावत और उनके मीडिया सलाहकार पर उनकी छवि को नुक्सान पहुँचाने का आरोप लगाते हुए सभी आरोपों को निराधार बताया. उन्होंने हरीश रावत को धमकी भरे लहजे में चेतावनी देते हुए कहा की मेरे और मेरे परिवार के ऊपर निराधार आरोप लगाने के लिए मुख्यमंत्री और सुरेन्द्र कुमार मुझसे बिना शर्त सार्वजनिक माफ़ी मांगे. अगर वो ऐसा नही करते तो मैं उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करूँगा.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें