dikshit

dikshit

दिल्ली के उत्तरी इलाके रोहिणी में स्थित आध्यात्मिक विश्वविद्यालय पर पुलिस की छापेमारी के बाद आश्रम से छुड़ाई गई 41 नाबालिग लड़कियों में से एक पीड़िता ने मीडिया के सामने आकर कथित कृष्ण अवतार के काले कारनामे उजागर किये.

पीड़ित लड़की ने दावा किया कि बाबा लड़कियों के साथ अश्लील हरकतें करता था. वह लड़कियों के कमरे में सोता था और उनसे मालिश भी करवाता था. एक महिला ने आपबीती बताते हुए कहा कि मैंने सोचा कि मैं भी बाबा की सेवा कर लूं, तो मैं भी उनके कमरे में चली गयी. बाबा वहां निर्वस्त्र पड़ा था और उसने मेरा हाथ पकड़कर मुझे अपनी ओर खींचा. जब मैंने मना किया तो उन्होंने कहा कि यहां आयी हो तो प्रसाद लेना ही होगा और उन्होंने मुझसे अश्लील बातें कहीं. महिला ने बताया कि बाबा कहता है कि उसे 16 हजार गोपियां चाहिए अभी तो 7-8 हजार हुईं हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ आश्रम के पास रह रही एक महिला ने बताया कि पिछले 20-22 साल में कई शिकायकर्ताओं ने पुलिस से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. मैंने भी जब मीडिया के सामने अपनी बात रखने की कोशिश की तो मुझे धमकी दी गयी, लेकिन मैं डरती नहीं हूं. मैं उन मासूम बच्चियों को बचाना चाहती हूं जिनके साथ इतना बुरा हो रहा है.

झुंझुनूं की महिला ने की है बेटी से दुष्कर्म की शिकायत 

वीरेंद्रदेव दीक्षित के आश्रम में राजस्थान की महिला काफी समय से अनुयायी बनकर रह चुकी थी. उसने अपनी चारों बेटियों को इस आश्रम में भक्ति के लिए छोड़ा था, जिसमें एक नाबालिग है. उसने मां को बताया कि बाबा ने उसके साथ दुष्कर्म किया है. यहां सैकड़ों महिलाएं रहती हैं. कब कौन यहां आता-जाता है, इस बारे में किसी को नहीं पता. इस पर महिला और उसके पति ने बाबा पर दुष्कर्म का केस दर्ज कराया.

Loading...