वसुंधरा सरकार ने अकबर बादशाह को घोषित किया आतंकी, बदला अजमेर के अकबर किले का नाम

अजमेर: राज्य की वसुंधरा सरकार ने भारत के इतिहास में अपने महान कार्यों के लिए जाने-जाने वाले मुग़ल बादशाह अकबर से महान शब्द छिनकर उन्हें आतंकी करार दिया हैं. इसी के साथ अजमेर स्थित अकबर किले का नाम भी बदलकर अजमेर किला कर दिया गया हैं.

राजस्थान के शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने मुगल सम्राट अकबर को आतंकी बताया हैं. उन्होंने कहा कि जो अजमेर में अकबर का किला है, उसे मैने अजमेर का किला कहने को कहा था, क्योंकि मैं एक राष्ट्रवादी हूं और उस आधार पर जहां-जहा भी आतंक कारियों के नाम हैं, उसमें जो भी नियमानुसार संशोधन किया जा सकता है वो किए जाने चाहिए. देवनानी ने विधानसभा के बाहर कहा कि वे एक राष्ट्रवादी हैं और जहां भी आतंकियों के नाम पर जगहों के नाम होंगे, वे उन्हें बदलने की कोशिश करेंगे.

उन्होंने कहा कि अकबर ने भारत में आक्रमण किया था. इसीलिए हमने पाठ्यक्रम से वह चैप्टर हटा दिया, जिसमें उसे महान बताया गया था. महाराणा प्रताप के हल्दीघाटी युद्ध जीतने को लेकर उन्होंने कहा, वामपंथियों ने भारत के इतिहास को तबाह किया है.

उन्होंने आगे कहा, अगर अकबर ने वाकई महाराणा प्रताप पर जीत हासिल की थी तो उसने उनके खिलाफ फिर छह बार लड़ाई क्यों छेड़ी? इतिहास में अब तक कहा जाता रहा है कि अकबर महान था लेकिन रिसर्च में यह साबित होता है कि महाराणा प्रताप महान थे।

विज्ञापन