madarsa

madarsa

उत्तराखंड मदरसा बोर्ड भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद विवादों में आ गया है. बड़ी बात ये है कि ये गंभीर आरोप बोर्ड के चेयरमैन और डिप्टी चेयरमैन ने लगाए है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, बोर्ड के चेयरमैन और डिप्टी चेयरमैन ने बोर्ड के डिप्टी रजिस्ट्रार अख़लाक़ अहमद पर मदरसों की मान्यता के नाम पर अवैध धन उगाही करने का गंभीर आरोप लगाया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा अल्पसंख्यक विभाग और मदरसा बोर्ड के डायरेक्टर कैप्टन आलोक शेखर तिवारी पर भी ऐसे ही गंभीर आरोप लगाए गए है. हालाँकि सभी ने आरोपों को बेबुनियाद करार दिया.

मदरसा बोर्ड के डिप्टी रजिस्ट्रार अख़लाक़ अहमद ने कहा कि बोर्ड मेम्बर गलत बयानबाजी कर रहे है. उन्होंने कहा कि कोई भी किसी भी तरह की जांच करवा सकता है.

ध्यान रहे इससे पहले मदरसा बोर्ड राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा मदरसों में पीएम नरेंद्र मोदी तस्वीर लगाने के आदेश को मानने से इनकार के बाद चर्चा में आया था.

Loading...