Wednesday, January 19, 2022

CAA विरोध: मुर्दा लोगों को भी यूपी पुलिस ने शांति भंग में जारी किया नोटिस

- Advertisement -

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर विरोध-प्रदर्शन को रोकने के लिए की गई दमनकारी कारवाई को लेकर यूपी पुलिस की दुनिया भर में आलोचना हो रही है। विवादित बयानो से यूपी पुलिस पहले ही अपनी फजीहत करा चुकी है। अब पुलिस ने शांति भंग में जिन लोगों को नोटिस जारी किया है। उनमे मुर्दा भी शामिल है।

दरअसल, फिरोजाबाद पुलिस ने दो सौ लोगों की पहचान कर उन्हें नोटिस जारी किया है. इसमें एक ऐसे व्यक्ति के खिलाफ नोटिस जारी हुआ है जिसकी मौत 6 साल पहले हो चुकी है। नोटिस के मुताबिक मृतक बन्ने खां को 10 लाख रुपये भरकर जमानत लेनी है।

बन्ने खां के अलावा लिस्ट में 90 साल के शूफी अंसार हुसैन का भी नाम शामिल है। शूफी अंसार पिछले करीब 58 साल से जामा मस्जिद की सेवा में लगे हुए हैं। इसके अलावा 93 साल के फसाहत मीर खां का नाम भी इस लिस्ट में है. फसाहत खां जाने माने समाजसेवी है। वह राष्ट्रपति कलाम से भी मिल चुके हैं।

फसाहत खां को नोटिस मिलने के बाद बेटा ने कहा, ”फसाहत मीर खां ऐसा नाम है जो समाजसेवी हैं। मेरे वालिद को राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम से राष्ट्रपति भवन में मिलने का सौभाग्य प्राप्त है और उन्हें पाबंद कर दिया यह समझ में नहीं आता।”

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles