Thursday, July 29, 2021

 

 

 

यूपी: बूचड़खानों पर कारवाई के खिलाफ मीट विक्रेता गए अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश में बूचड़खानों पर हो रही कार्रवाई के विरोध में मीट विक्रेताओं ने सोमवार से अपनी हड़ताल को अनिश्चितकालीन हड़ताल का रूप दे दिया हैं. अब इस हड़ताल में मटन और चिकन विक्रेताओं के बाद अब मछली कारोबारी भी शामिल हो गए हैं.

लखनऊ बकरा गोश्त व्यापार मंडल के पदाधिकारी मुबीन कुरैशी ने कहा कि हमने अपनी हड़ताल को और तेज करने का फैसला किया है. मांस की सभी दुकानें बंद रहेंगी. मछली विक्रेताओं ने भी इस हड़ताल में शामिल होने की घोषणा की है. इसी के साथ सोमवार से राजधानी लखनऊ की 5000 नॉनवेज की दुकानें भी बंद रहेगी.

कुरैशी ने कहा कि बूचड़खानों पर कार्रवाई के कारण लाखों लोगों की रोजी-रोटी पर संकट पैदा हो गया है. पिछले पांच दिनों से कच्चा मीट न बिकने से 15 करोड़ रु से ज्यादा का कारोबार प्रभावित हो चुका है. मुबीन कुरैशी ने बताया कि बंदी से सबका नुकसान है. ऐसे में हक के लिए आवाज उठाना जरूरी हो गया है. वहीँ टुंडे, अवध बिरयानी समेत शहर में एक हजार से ज्यादा छोटी-बड़ी दुकानें बंद होने से चार करोड़ से ज्यादा का कारोबार प्रभावित हो चुका है.

लखनऊ मीट व्यापारी संघ के अध्यक्ष हामिद कुरैशी के मुताबिक, “शहर में एक ही स्लाटरहाउस था. वह भी बंद कर दिया गया. इस कारण छोटे दुकानदार दूरदराज के इलाकों में जानवर काटते हैं. इसकी जानकारी नगर निगम को भी है. हमने मांग की थी कि लखनऊ के हर जोन में एक स्लॉटर हाउस बनाया जाए. पर ऐसा नहीं हुआ.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles