beroj

देश में बेरोजगारी का क्या आलम हैं ये नजर आया उत्तरप्रदेश के मुरादाबाद में. जहाँ नगर निगम की और से सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए वेकेंसी निकाली गई. जिसमे ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट और इंजीनियरिंग डिग्री वालों तक ने अप्लाई किया.

इस दौरान नगर निगम ने आवेदनकर्ताओं को हाथ में फावड़ा-कुदाल थमा कर नाले साफ़ करने का काम दिया. फि‍जि‍कल टेस्‍ट के तहत सभी आवेदनकर्ता शहर में नालों की सफाई करते नजर आये. इनमे से कुछ युवक नाले के बाहर ही खड़े होकर कचरा निकाल रहे थे तो कुछ नाले में उतर गए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल नगर निगम मुरादाबाद ने कांट्रैक्‍ट पर 1083 सफाईकर्मियों की भर्ती नि‍काली थी. जिसमे बड़ी संख्या में ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट और इंजीनियरिंग की डिग्री वाले कैंडिडेट्स ने भी आवेदनक किया था.

इस दौरान नगर निगम ने बगैर सुरक्षा बंदोबस्त के उनसे नाला साफ करने को भी कहा. जब यह बात मीडिया के सामने आई तो नगर निगम इसे रिक्रूटमेंट प्रोसेस का हिस्सा बताया.

Loading...