ats

ats

यूपी एटीएस ने देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने वाले इंटरनेशनल कॉल रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए 6 आरोपियों को कुशीनगर जिले से गिरफ्तार किया है.

आरोपियों के पास से 7 लैपटॉप, मोबाईल फोन, बिल बुक व अन्य दस्तावेज बरामद किए गए हैं. इसके अलावा 16 सिम बॉक्स और लगभग 50 हजार सिम भी बरामद हुए. यह रैकेट बहुत दिनों से इंटरनेट कॉल को वाइस कॉल में बदलने वाला कॉलिंग कार्ड बेचने का धंधा कर रहा था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एटीएस के आईजी असीम अरूण ने बताया कि पिछले साल इंटरनेट गेटवे को बाईपास करके और राष्ट्रीय सुरक्षा को धता बताते हुए कार्य करने वाले 27 लोगों को गिरफ्तार किया गया था. उन्होंने बताया, इसके अंतर्गत विदेश से इन्टरनेट कॉल कर सिम बॉक्स के माध्यम से वाइस कॉल में बदल कर भारत के किसी भी नंबर पर बात कराई जा सकती है.विदेशी नम्बर की जगह डिस्प्ले पर भारत का ही नंबर दिखेगा.

पकड़े गए आरोप‍ी राम प्रताप सिंह, विजय शर्मा, राम सिंगार सिंह, संतोष सिंह, हरिकेश बहादुर सिंह और बृजेश पटेल सभी कुशीनगर के अह‍िरौली थानाक्षेत्र के रहने वाले हैं. आरोपियों ने इस धंधे के से दो साल में करीब 33 लाख रुपये कमाए हैं.

आईजी ने बताया कि इस रैकेट के सदस्यओं के पास 19 गेटवे आईपी हैं और इसके जरिए ही कॉलिंग को बेचकर ये लोग ग्राहक भी बना रहे थे. रैकेट में शामिल लोग अब तक 6 हजार से अधिक उपभोक्ता भी बना चुके हैं. इसके अलावा रैकेट के सदस्य सिम बॉक्स पर जाने वाली कॉल को नियंत्रित करने का भी काम करते थे.

Loading...