afzal

afzal

बसपा विधायक मुख़्तार अंसारी और उनकी पत्नी आफशा अंसारी के हार्ट अटैक पर उनके भाई अफजाल अंसारी ने सवाल खड़े करते हुए अचानक इस तरह तबीयत खराब होने  पर संदेह जताया है. हालाँकि उन्होंने जब तक मुख्तार से उनकी उनकी मुलाकात नहीं हो जाती तब तक कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

अफजाल ने कहा कि संदेह कई हैं, लेकिन जब तक उनकी मुलाकात मुख्तार से नहीं हो जाती तब तक कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. उन्होंने कहा कि दोनों को इलाज मुहैया कराने में देरी हुई. अफजाल ने कहा कि मुख्तार की तबीयत खराब होने के बाद से ही बांदा के डॉक्टर व अफसर उन्हें रेफर करने पर जोर दे रहे थे, न कि उन्हें समुचित इलाज देने पर.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया, मुख्तार जेल में पत्नी के साथ चाय पी रहे थे. चाय पीने के कुछ ही देर बाद वे बेहोश होकर गिर पड़े. उनकी पत्नी भी बेसुध हो गईं. दोनों को तत्काल बांदा अस्पताल लाया गया जहां से उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया. दोपहर करीब 12 बजे परिवार को इस घटना की सूचना दी गई.

अफजाल ने कहा कि जिस तरह से ये घटना घटी उससे काफी आशंकाएं हैं. उन्होंने कहा कि हार्ट की बीमारी का कोई इतिहास उनके खानदान में नहीं रहा है और न ही मुख्तार को कभी हार्ट संबंधी कोई शिकायत रही है. उन्होंने कहा कि शायद ही कभी ऐसा हुआ हो कि पति-पत्नी को एक साथ हार्ट अटैक पड़ा हो. गनीमत है कि मुख्तार होश में हैं और सुधार हो रहा है.

बताया जाता है कि सूचना मिलने पर अफजाल ने अंसारी के लिए एयर एंबुलेंस की व्यवस्था करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी कॉल किया. हालांकि बाद में बांदा प्रशासन ने उन्हें सड़क मार्ग से ही लखनऊ रवाना कर दिया.

Loading...