unna

लखनऊ में एक महिला ने उन्‍नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके साथियों पर बलात्कार का आरोप लगाते हुए न्‍याय नहीं मिलने पर आत्‍महत्‍या करने की कोशिश की. हालांकि पुलिस ने किसी तरह महिला को अपने मंसूबों में कामयाब नहीं होने दिया.

महिला का कहना है कि वह सभी आरोपियों की गिरफ्तारी चाहती है. अगर ऐसा नहीं हुआ तो वह खुदकुशी कर लेगी. पीडिता के साथ उसके परिवार वालों ने भी CM आवास के बाहर अपनी जान देने की कोशिश की. पीड़िता के अनुसार, पीड़िता के अनुसार, आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के बाद से ही उसे और उसके परिवार को धमकाया जा रहा है. साथ ही आरोपियों ने मारपीट भी की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एडीजी ने बताया कि जांच में पाया गया कि दोनों पक्षों में 10-12 साल से विवाद चल रहा है. एडीजी जोन ने पीडि़ता और उसके परिवार से मुलाकात करके कार्रवाई का आश्‍वासन दिया है.

वहीँ बांगरमऊ से आरोपी बीजेपी विधायक का कहना है कि मामले की कहानी महिला के परिवार ने तीन दिन पहले उन्‍नाव में रची थी. उन्‍होंने कहा ‘2002 के चुनाव में जब मैं चुनाव लड़ रहा था तो वहां एक लड़के का अपहरण हुआ था. तब भी मुझ पर आरोप लगाया. जिन दो निर्दोष लोगों को फंसाया जा रहा था, पुलिस उन्‍हें मामले से निकालने का प्रयास कर रही थी. तब इन लोगों को लगा कि मैंने उन लोगों की मदद की. हां मैं पूरे जिले के लोगों की मदद करता हूं’.

कुलदीप सिंह सेंगर ने आगे कहा ‘इन लोगों ने पिछले छह महीनों से फेसबुक, व्‍हाट्सएप समेत अन्‍य माध्‍यमों से मेरे खिलाफ कई शिकायतें कीं. इन्‍होंने मेरे खिलाफ लगभग सभी विभागों में पत्रों के माध्‍यम से भी कई मामलों में फंसाने के लिए शिकायतें कीं. प्रशासन और पुलिस ने जांच भी की. अब यह इनकी आखिरी स्क्रिप्‍ट बची थी. तीन दिन पहले इनमें पारिवारिक झगड़ा हुआ था. तब भी इन्‍होंने मेरा नाम खींचने की कोशिश की थी. अब रविवार को ये लोग सीएम आवास के बाहर खुदकुशी करने पहुंच गए.

Loading...