जयपुर की सुरेश ज्ञान विहार यूनिवर्सिटी (SGVU) ने 250 कश्मीरी स्टूडेंट्स को अपने हॉस्टल से निकाल दिया. दरअसल ये नौबत मोदी सरकार द्वारा स्कॉलरशिप फंड जारी नहीं करने से आई है.

दरअसल 2014 में 420 कश्मीरी स्टूडेंट्स ने प्रधानमंत्री स्पेशल स्कॉलरशिर स्कीम के तहत ऐडमिशन लिया था. स्कॉलरशिप के तहत इन छात्रों को वार्षिक आधार पर ट्युइशन, हॉस्टल और मेस की फीस दी जा रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हालांकि केंद्र ने इस योजनाके तहत सिर्फ 100 छात्रों के लिए मई 2016 में पैसा जारी किया था.बाकी बचे 320 स्टूडेंट्स की स्कॉलरशिप ये कहकर रद्द कर दी गई कि यूनिवर्सिटी फेक है.

मोदी सरकार के इस कदम के बाद ये सभी छात्र सडक पर रहने को मजबूर है. विश्वविद्यालय के उप कुलपति धर्म बुद्धी ने बताया कि वे इस मामले की बातचीत एचआरडी मंत्रालय और एआईसीटीई दोनों से कर चुके है.

उन्होंने कहा कि मैं और ज्यादा दिनों तक खर्चा नहीं उठा सकता हूं. मैं पहले ही अपने विश्वविद्यालय के खाते से 15 करोड़ रुपए इन छात्रों के लिए खर्च कर चुका हूं.

यूनिवर्सिटी के छात्र तौसिफ ने बाते, ‘यूनिवर्सिटी दावा कर रही है कि 2015 में जब मैंने ऐडमिशन लिया, तब से लेकर अब तक उसे सरकार से एक पैसा नहीं मिला है. सरकार स्कॉलरशिप देती ही क्यों है, जब उसे फंड रिलीज नहीं करना होता.

Loading...