wedding card kamal phool 650x400 51519666171

wedding card kamal phool 650x400 51519666171

छत्तीसगढ़ में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने है. ऐसे में रमन सरकार ने अपनी कुर्सी को बचाने के लिए कोशिशे शुरू कर दी है. लेकिन नोजवान तबका उनसे ख़ासा नाराज नजर आ रहा है. इसका नजारा जांजगीर में देखने को मिला.

दरअसल, जांजगीर में बेलादुला गांव के रामकुमार मनहर ने अपनी शादी के कार्ड पर छपवाया – “हमारी भूल कमल का फूल.” उन्होंने ये सब सरकार की नीतियों से आहत होकर किया. साथ ही उन्होंने कार्ड पर अपनी और दुल्हन की जन्म तारीख और वर्ष भी छपवाया. ताकि कोई अड़चन पैदा न हो.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

जब इस बारे में उनसे पूछा गया कि उन्होंने ऐसा क्यूँ किया तो उन्होंने बताया, वह बेरोज़गार हैं और इसका कारण सरकार की नीति और सिस्टम है. उन्होंने बताया, दो साल पहले रोज़गार में थे, पंचायत में ऑपरेटर थे. सरकार ने दस हज़ार को निकाल दिया तो मेरी भी नौकरी गई. विरोध हुआ तो पंचायत मंत्री जी बोले दूसरी भर्ती में प्राथमिकता देंगे, पर वह भी नहीं हुआ.. तो मैं तो कहूंगा न भूल है कमल फूल, तो बोलता भी हूं और कार्ड पर भी चस्पा करा दिया.

anurag

हालांकि ये पहला मामला नहीं है. इससे पहले मध्यप्रदेश के सागर में भी ऐसा ही मामला सामने आया था. पेशे से संविदाकर्मी अनुराग जैन ने अपनी बेटी की शादी के कार्ड पर छपवाया था – “हमारी भूल कमल का फूल.” दरअसल, अनुराग जैन जो 2010 में स्वास्थ्य विभाग में संविदा पर नियुक्त हुए थे, उनके साथ करीब 473 कर्मचारियों को सरकार ने नौकरी से निकाल दिया.

Loading...