दो मुस्लिम युवकों की पुलिस ने ली पीट-पीट कर जा’न, थानाध्यक्ष समेत 8 निलंबित

6:30 pm Published by:-Hindi News

सीतामढ़ी: लूट के आरोप में हिरासत में बिहार पुलिस ने दो मुस्लिम युवकों की पुलिस ने पीट-पीट कर जान ले ली।दरअसल पुलिस जबरन आरोपियों से जुर्म कबूल कराने में जुटी थी। इस दौरान दोनों के साथ बेदर्दी से मारपीट की गई और दोनों ने दम तोड़ दिया।

जानकारी के अनुसार, मृतकों की पहचान पूर्वी चंपारण जिले के चकिया थाने के राम विहार निवासी मनाउल के पुत्र गुफरान (28) और मुलाजिम के पुत्र तस्लीम आलम (30) के रूप में हुई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी अमर केस जीने डुमरा थाना अध्यक्ष चंद्र भूषण कुमार सिंह समेत आठ पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है एसडीपीओ सदर वीर धीरेंद्र से मामले की रिपोर्ट मांगी गई है। वहीं जोनल आईजी नैयर हसनैन खान ने तिरहुत के डीआईजी रविंद्र कुमार को सीतामढ़ी पहुंचकर कैंप करने का निर्देश दिया है।

इस बीच सदर अस्पताल पहुंचे परिजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया है। उनका आरोप है कि पोस्टमार्टम से पहले पुलिस ने शव देखने नहीं दिया डीएम रंजीत कुमार ने मामले की जांच के लिए एसडीओ सदर के नेतृत्व में एक टीम गठित की है।बता दें कि पुलिस ने दोनों को 20 फरवरी को सीतामढ़ी मुजफ्फरपुर हाईवे पर लूट के दौरान मुजफ्फरपुर के औराई थाना क्षेत्र के जीवाजोर गांव निवासी सत्यनारायण साह के पुत्र राकेश कुमार की गोली मार हत्या कर बाइक लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

source: iStock

इस दौरान दोनों की डुमरा थाना में पिटाई की गई। बाद में स्थिति बिगड़ने पर बुधवार की शाम 4:25 बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया वहां चिकित्सकों ने 5:05 गुफरान और 5:20 तस्लीम को मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना पर एसडीपीओ सदर डॉ कुमार वीर धीरेंद्र समेत कई अधिकारी सदर अस्पताल पहुंचे दंडाधिकारी की मौजूदगी में शवों का पोस्टमार्टम कराया गया शवों पर करंट लगने जैसे निशान पाए गए हैं

इधर एसडीपीओ सदर ने पुलिस की पिटाई से मौत की बात को खारिज कर दिया है कहा है कि दोनों से हाजत में मिलने कई लोग आए थे किसी मुलाकाती द्वारा कुछ खिला दिया गया होगा बताया कि मामला संदेह स्पसद हैं पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई होगी।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें