गौरक्षा की आढ़ में चल रहे गोरखधंधे का विरोध करने पर एक बार फिर से मुस्लिम युवको को सज़ा मिली है. दरअसल ग्रेटर नोएडा के यमुना एक्सप्रेस-वे पर भैंस ले जा रहे दो मुस्लिम युवकों की बुरी तरफ पिटाई की गई. दरअसल दोनों ने अवैध वसूली का विरोध किया था.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, हापुड़ के शकील शुक्रवार को कोशी कला जिला मथुरा से 18 भैंस लेकर ट्रक से जा रहे थे. इस दौरान यमुना एक्सप्रेस-वे पर उन्हें रोका गया. लेकिन उन्होंने रुकने की बजाय ट्रक को चलाना बेहतर समझा. ट्रक को आगे यमुना एक्सप्रेस वे के टोल प्लाजा पर रोक लिया गया.

दोनों युवको को ट्रक से उतारकर बेदर्दी से पीटा गया. घटना की सुचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को जैसे-तैसे बचाया. पुलिस ने पीटने वालो पर कार्रवाई के बजाय शकील और हबीब पर ही पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया. वहीँ पशुओं को जेवर के एक पशु व्यापारी के सुपूर्द कर दिया गया.

हबीब ने बताया कि वपीटने वालों में वो लोग शामिल हैं जो ट्रक में भैंस को एरिया से निकलने की बदले अवैध वसूली करना चाह रहे थे. लेकिन मना करने पर उन्होंने मार-पिटाई शुरू कर दी. एसओ राजपाल तोमर ने बताया कि ट्रक में बुरी तरह पशु भरे थे, जो गलत था इसलिये दोनों पर पशु क्रूरता में मुकदमा कायम किया गया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?