मुजफ्फरनगर: उत्तरप्रदेश पुलिस अपनी अजीबोगरीब कार्रवाई के लिए हमेशा ही सुर्ख़ियों में रहती है. इस बार गोहत्या के आरोप में 2 नाबालिग लड़कियों को गिरफ्तार कर जेल भेजने को लेकर चर्चा में है.

दरअसल घटना पुलिस ने इस मामले में 12 और 16 साल दोनों लड़कियों और उसकी मां को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा 6 अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया है. बाकि फरार बताए जा रहे है. पुलिस ने दावा किया है कि उन्होंने आरोपियों के पास से 10 क्विंंटल गाय का मीट और उनके घर से बूचड़खाने का सामान भी बरामद किया है.

शुक्रवार शाम को ही पुलिस ने सभी 9 आरोपियों को स्थानीय अदालत में पेश किया और वहां उन्हें वयस्क बताते हुए पुलिस हिरासत में ले लिया. इस दौरान नूनन नाबालिग लड़कियों को जूवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने पेश करने के बजाय पुलिस ने लड़कियों को भी जेल भेज दिया.

पुलिस की अजीबोगरीब कार्रवाई पर सवाल उठ खड़े हो गए. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रवक्ता शादाब अहमद ने कहा कि पुलिस ने किस आधार पर नाबालिग बच्चियों और महिलाओं को गिरफ्तार किया है. पुलिस को आरोपी को पकड़ना चाहिए था, परिवार के अन्य सदस्यों को किस कानून के तहत जेल भेजा गया?

मामला बढ़ता देख अब एसएसपी अजय यादव ने जांच के आदेश दिए है. उन्होंने बताया कि वह मामले को खुद देख रहे हैं. हालांकि वे भी नाबालिग लड़कियों के मामले में कुछ भी बोलने से बच रहे है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?