दादरी के बिसाहड़ा गाँव में गौमांस की अफवाह उड़ा पीट-पीट कर की गई अखलाक की हत्या के मामले में दो आरोपियों को जमानत मिल गर्इ है. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दोनों आरोपियों को दो साल बाद जमानत दी हैं.

इस हत्याकांड के तीन महीने बाद गिरफ्तार हुए आरोपी पुनीत शर्मा और अरूण को गुरुवार को कोर्ट ने जमानत दी. अख़लाक़ की बेटी के बयान के अनुसार, पुनीत और अरूण भी अख़लाक़ की हत्या में शामिल थे. शाहिस्ता के बयान के आधार पर ही पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था.

याद रहे 28 सितंबर 2015 को दादरी के बिसाहड़ा गांव में गोकशी की अफवाह फैला कर कर  उग्र भीड़ ने अखलाक नाम के बुजुर्ग की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. इस हमले में अख़लाक़ का पुत्र भी गंभीर रूप से घायल हुआ था. इस मामले में 19 लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दोनों आरोपियों को जमानत मिलने के बाद बाकी आरोपियों के परिवार वालों का कहना है उनके बच्चों को भी जल्दी जमानत मिल जायेगी.

Loading...