हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी (एचसीयू) के छात्रों को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के उस आदेश के खिलाफ जिसमे उन्होंने सिरिया के प्रवासियों सहित सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों पर अमेरिका में प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगा दिया था का विरोध करना महंगा पड़ गया हैं.  यूनिवर्सिटी प्रशासन ने यूनिवर्सिटी में मुस्लिम छात्रों के प्रवेश पर रोक लगा दी हैं.

एचसीयू की जुनैरा के अनुसार, इस मामलें की शिकायत विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार के पास दर्ज कराई गई हैं. जुनैरा ने बताया कि जब वो यूनिवर्सिटी के मेन गेट पर पहुंची तो उन्हें जाने दिया गया और बाकि सभी मुस्लिमों को रोक दिया गया. इसके अलावा यूनिवर्सिटी में आने जाने के लिए उन्हें एक पास भी जारी किया गया.

उन्होंने आगे बताया कि जब इस बारें में मुख्य सुरक्षा अधिकारी श्री दूरदर्शन राव से जब संपर्क किया तो उन्होंने इस बात की पुष्टि की और कहा कि विश्वविद्यालय ने परिसर में मुसलमानों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. मौलाना आजाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी (मानू) का एक छात्र यूनिवर्सिटी में दवा पहुंचाने आया था, लेकिन उसे भी परिसर में प्रवेश नहीं करने दिया गया. उसने अपना पहचान पत्र दिखाया और कहा कि वह एक छात्र है, लेकिन उसे भी कैंपस में जाने से रोक दिया गया.

एक सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि मुसलमानों की बड़ी संख्या विश्वविद्यालय में आ रही है जिससे सुरक्षा समस्या पैदा हो सकती है. इसलिए मुसलमानों को परिसर में प्रवेश करने पर रोक लगाया गया है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें