ramll

ramll

राजस्थान के सिरोही में रामलीला के दौरान राम ने बीजेपी नेता की मौजूदगी के चलते रावण दहन करने के इंकार कर दिया. साथ ही पूरी सेना के साथ वापस लौट गए.

दरअसल, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मंडल अध्यक्ष सुरेश सागरवंशी को स्टेज पर देख उन्होंने कहा कि असली रावण तो मंच पर बैठे हैं. जो हर मुद्दे का राजनीतिकरण कर देता है, अगर अभी राम होते भी तो इन्हें देखकर शर्मिंदा हो जाते. उन्होंने कहा कि ये मोदी के नाम पर विकास की बात कहते हैं, लेकिन विकास हुआ कहां है यह तो बताएं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अंत में जाते हुए उन्होंने कहा कि आज राम निराश होकर लौट रहा है और वह रावण का दहन नहीं करेगा. इसके बाद श्रीराम की पूरी सेना वापस लौट गई. आपको बता दे श्रीराम का किरदार निभाने वाले शख्स का नाम मनोज कुमार माली है. जो भ्रष्टाचार को लेकर ख़ासा नाराज है.

माली ने कही ये बात..

इस रावण दहन पर मंच पर भी रावण बैठे हैं और उनको चेतावनी देना चाहता हूं की विकास के नाम पर राजनीति बंद कर दो.ये ताराराम माली, सुरेश सगरवंशी इनको बता देंगे हम कि युवा शक्ति क्या करेगी क्या नहीं करेगी. विकास के नाम पर सारी सड़के खड्डे के खड्डे हो गए हैं. सिरोही में क्या विकास हुआ, नाम मात्र का. ये लोग मोदी के नाम पर विकास करते हैं और मोदी भी क्या विकास करता है, घोटाले गिनाता है विकास के. मगर विकास बताओ विकास कहां हुआ है. मुझे बहुत ही खराब लग रहा है कि मंच पर भी रावण बैठे हैं. वो ही रावण जला लेें. रावण ही रावण जलाएगा आज. आज राम निराश होकर जा रहा है.

आरोपों पर बीजेपी नेता ने कहा, मुझेअतिथि नगर परिषद ने बनाया है. इसलिए मैं अतिथि के तौर पर पहुंचा. जहां तक अनुदान राशि का सवाल है कि हमारे मंडल को अधिक दी जाती है तो हमने तय किया है कि अगले वर्ष से हम यह राशि नहीं लेंगे. इसके लिए परिषद को पत्र भी दे दिया है.

Loading...