screenshot 7

राजस्थान के भीलवाड़ा में एक तांत्रिक ने भगवान बनने के लिएखुद को जिंदा दफन कर लिया। 8 घंटे बाद पुलिस ने उसे जबर्दस्ती समाधि से आकर बाहर निकाला।

करोचो का खेड़ा गांव में तांत्रिक धीरज गांव ने कुछ दिनों पहले घोषणा की कि वह कुछ दिनों में समाधि लेगा और फिर भगवान बन जाएगा। उसने नवरात्र के पहले दिन मंदिर के करीब ‘समाधि’ लेने की तैयारी की।

उत्साहित गांववालों ने मंदिर के पास ही एक गड्ढा खोदा और धार्मिक अनुष्ठान के बाद तांत्रिक के कहे मुताबिक उसे बुधवार शाम को जिंदा दफन कर दिया। आसपास के गांववाले भी ‘समाधि स्थल’ आए और मिट्टी डालकर पूजा-पाठ करने लगे। इसका विडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

आसिंद पुलिस स्टेशन के एसएचओ को जब इसके बारे में पता चला तो वह गुरुवार रात 2 बजे अपनी टीम के साथ गांव पहुंचे, मगर गांव वालों ने उन्हें अंदर जाने से रोक लिया। बाद में एसएचओ ने गांव के बुजुर्गों से बात कर उन्हें समझाया कि बिना हवा-पानी के तांत्रिक कुछ देर में मर जाएगा।

temple loudspeaker 760 1515311794 618x347

एसएचओ बुजुर्गों को समझाने में कामयाब रहे, जिनके निर्देश पर गांववालों ने रास्ता छोड़ दिया और तांत्रिक को मिट्टी हटाकर गड्ढे से निकाल लिया गया। बाहर निकालने पर धीरज काफी हद तक बेहोश की हालत में था। पुलिस तांत्रिक को अस्पताल ले गई।

पुलिस ने तांत्रिक और गांववालों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। तांत्रिक ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा कि यह पूरा उसी का प्लान था और इसके लिए और कोई जिम्मेदार नहीं है। हालांकि अब भी वह समाधि लेकर ‘भगवान’ बनना चाहता है।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें