बुलेट ट्रेन के वादे के साथ सत्ता में आई मोदी सरकार में भारतीय रेल राम भरोसे ही चल रही है. एक के बाद एक कई हादसों से भी सरकार ने कोई सबक नहीं लिया है. कानुपर में मंगलवार को एक बड़ा रेल हादसा होने से बच गया है.

दरअसल, कानपुर स्टेशन के करीब एक ही ट्रैक पर दुरंतो एक्सप्रेस, हटिया-आनंद विहार एक्सप्रेस और महाबोधि एक्सप्रेस एक साथ आ गई. तीनों ट्रेनों के बीच की दूरी महज 100 मीटर थी. हालांकि वक्त रहते रेलवे अधिकारीयों को इस बारें में जानकारी मिल गई. और बड़ा हादसा होते टल गया.

हुआ यूँ कि इलाहाबाद क्रॉसिंग पर दुरंतो एक्सप्रेस के सामने साइकिल रिक्शा आ गया. ऐसे में चालक ने फौरन इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया. कुछ ही मिनटों में दूसरी ट्रेन का सिग्नल हो गया और हटिया-आनंद विहार एक्सप्रेस भी इसी ट्रैक पर आ गई. इस ट्रेन के चालक ने भी आगे ट्रेन को देखकर ब्रेक लगा दिया.

कुछ ही देर बाद इसी ट्रैक पर महाबोधि एक्सप्रेस भी आ गई. आगे ट्रेन को देख ड्राईवर ने ब्रेक लगा दिया. तीनों ट्रेन के ड्राइवरों की सतर्कता से एक बड़ा हादसा टल गया.

इस बारें में सीपीआरओ, एनसीआर गौरव बंसल ने कहा कि कोई चूक नहीं हुई है. ऑटोमैटिक सिग्नल था लिहाजा सभी ट्रेनें रवाना हो गईं. एक के पीछे एक ट्रेन निर्धारित दूरी पर रुकती है. कोई भी नियम विरुद्ध कार्य या दुर्घटना जैसी चीज नही हुई.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?