तीन तलाक को लेकर बोली मुस्लिम महिलाएं ‘हमें शरीयत कानून है पसंद, इसमें छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं’

mod

तीन तलाक का विरोध करने पर अबी मुस्लिम महिलाएं भी केंद्र सरकार के विरोध में आ गई हैं. गुजरात के मोडासा में मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक का समर्थन करते हुए कहा कि उन्हें शरीयत कानून पसंद है और वे इससे खुश हैं. अगर इसमें फेरबदल करने का प्रयास किया तो उसका विरोध किया जाएगा.

तीन तलाक के समर्थन में हजारों मुस्लिम महिलाओं ने हस्ताक्षर अभियान भी शुरू किया हैं. मुस्लिम महिला नेता सालेहा मलिक के अनुसार 10 हजार से अधिक मुस्लिम महिला अपने हस्ताक्षर के ज्ञापन प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को भेंजेगी.

सालेहा ने कहा कि हम इस्लामी जीवन व्यवस्था से खुश हैं, हम इसमें कोई परिवर्तन नहीं चाहते. अगर ऐसा कुछ हुआ तो विरोध किया जाएगा.

गौरतलब रहें कि केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के विरोध में हलफनामा दाखिल कर तीन तलाक का विरोध किया हैं.

विज्ञापन