nikah_paper_signing

देशभर में नोटबंदी के बाद से वे लोग ज्यादा प्रभावित हुए हैं जिनके घरों में शादियाँ थी लेकिन गुजरात के सूरत में शनिवार को एक ऐसा निकाह हुआ जिस पर नोटबंदी का कोई प्रभाव भी नहीं पड़ा. इस निकाह को ‘कैशलेस निकाह’ का नाम दिया जा रहा है.

दरअसल, साबरकांठा जिले का अकोदरा गांव पिछले 20 महीने पहले ही कैशलेस इकॉनमी पर चल रहा है. ऐसे में नोटबंदी के बाद हुए इस निकाह की सारी तैयारियाँ डिजिटल बैंकिंग के जरिए की गई.

इस निकाह की सबसे ख़ास बात ये रही कि निकाह में आने वाले मेहमानों ने भी दूल्हा-दुल्हन को चेक, डेबिट, क्रेडिट कार्ड के जरिए तोहफे दिए.

यह गाँव नोटबंदी से पहले ही मोबाइल बैंकिंग, डेबिट कार्ड और इंटरनेट बैंकिंग का भरपूर उपयोग कर रहा हैं. इस मुहिम में आईसीआईसीआई बैंक की अकोदरा ब्रांच ने गांववासियों का साथ दिया, जिसके बाद यह गांव ने ‘डिजिटल’ हो गया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें