बाडमेर: सिणधरी उपखंड के मोतीसरा राजस्व ग्राम में 50 मुस्लिम परिवारों के 250 लोगों द्वारा मुस्लिम धर्म से हिंदू धर्म अपनाने की घटना को स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया ( एमएसओ) ने सिरे से नकार दिया है। यह सभी परिवार पहले से ही हिंदू हैं और कंचन समाज से ताल्लुक रखते हैं ।

उन्होने कहा, धर्म परिवर्तन करने वाले लोगों ने खुद दावा किया है कि वह शुरु से ही हिंदू धर्म की रीति रिवाज और त्यौहारो को मनाते हैं। ऐसे में सवाल उठता है आखिर मुसलमान कैसे हुए?  वही धर्म परिवर्तन करने वाली ढाडी समाज के जिला अध्यक्ष सुखदेव मालिया ने अपनी समाज में इस तरह की घटना को सिरे से नकार दिया है ।

सुलेमानी ने बताया कि इन परिवारों का आसपास कहीं भी मुस्लिम समाज से कोई ताल्लुक नहीं रहा है । धर्म परिवर्तन करने वालों के नाम हरजी राम, शुभम राम, मेघराज और जगन हैं । ऐसे में यह किसी भी मुस्लिम परिवार द्वारा हिंदू धर्म की परिवर्तन की खबर झूठी है, सिर्फ संप्रदाय की बात फैलाने के मकसद से माहौल खराब किया जाए है। एक हिंदू समाज का हिंदू में ही धर्म परिवर्तन सवालों के घेरे में है ।

Loading...
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano
विज्ञापन