ट्रेन में अवैध वसूली कर रहे टीटीई और पुलिसकर्मियों के खिलाफ आवाज उठाने पर आरपीएफ के जवानों पर एक युवक को चलती ट्रेन से फेक दिया. जिसके चलते उसकी मौत हो गई. मृतक बीजेपी नेता का बेटा बताया जा रहा है.

मामला यूपी के महोबा इलाके का है. बिहार के मोहनियां निवासी मृतक राहुल ती 25 अगस्त को चम्बल एक्सप्रेस में सवार होकर दिल्ली से बनारस होते अपने घर जा रहा था. ट्रेन का रूट बदलने की वजह से वह झांसी से चंबल एक्सप्रेस में S-2 बोगी में जनरल टिकट लेकर बैठ गया.

इस दौरान टीटीआई और आरपीएफ के जवान उसकी बोगी में टिकट जांच करने लगे और कुछ यात्रियों के साथ जबरन मारपीट कर पैसे वसूलने लगे. उसके साथ भी ऐसा ही सलूक किया गया. जिसका राहुल ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया. इस बात का पता आरपीएफ के जवान और टीटीआई को चल गया.

आरोपियों ने राहुल का मोबाइल, अंगूठी और ब्रेसलेट छीन लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी इतना ही नहीं उन्होंने थूक कर राहुल को कई बार चटवाया. और अंत में चलती ट्रेन से उसे बाहर फेंक दिया. चलती ट्रेन से गिरने से राहुल की मौत पर ही मौत हो गई.

इस बात की जानकारी बोगी में बैठे कुलदीप शर्मा जोकि इस घटना के चश्मदीद हैं और पेशे से वकील है ने दी. उन्होंने मोहबा आरपीएफ थाने में मामला दर्ज करवाया लेकिन उनका केस दर्ज नहीं किया गया तब उन्होंने रेल मंत्रालय को ट्वीट कर मामले की जानकारी दी.

जीआरपी के एडीजी वीके मौर्य ने बताया कि ये घटना महोबा जिले में हुई है. इसकी जानकारी उस वकील से मिली जो साथ में सफर कर रहे थे. हमने इस मामले में 304 का मुकदमा दर्ज किया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?